Happy Makar Sankranti Shayari in Hindi 2022 With Images Download

Happy Makar Sankranti Shayari in Hindi

बंदे हैं हम देश के, हम पर किसका ज़ोर,
मकर संक्रान्ति में उड़े पतंगे चारों ओर,
लंच में खाएं फिरनी गोल,
अपना मांझा खुद सूतने आज हम चले छत की ओर।।

Happy Makar Sankranti Shayari

दिल को धडकन से पहले,
दोस्तों को दोस्ती से पहले,
प्यार को मोहब्बत से पहले,
ख़ुशी को गम से पहले,
आपको कुछ दिन पहले,

Patang Shayari in Hindi

मंदिर की घंटी, आरती की थाली,
नदी के किनारे सुरज की लाली,
जिंदगी में आये खुशियों की बहार,
आपको मुबारक हो पतंगों का त्योहार।।

Shayari on Makar Sankranti with images

तील हम है और गुड़ हो आप,
मिठाई हम है और मिठास हो आप,
इस साल के पहले त्योहार से हो रही आज शुरुआत,
आपको हमारी ओर से मकर संक्रान्ति का उपहार।।

1. HINDI LYRICS >
2. HINDI CAPTIONS >
3. AUTHORS >
4. POETRY >
5. POEM >
6. PAHELIYAN >

Makar Sankranti Par Shayari

पतंगों का नशा, मांझे की धार,
सर्दी की मार, फिर भी दिल है बेक़रार,
मुबारक हो आपको पतंगों का त्यौहार।।

Makar Sankranti Shayari Image

पल पल सुनहरे फूल खिले,
कभी न हो काटों का सामना,
जिंदगी आपकी खुशियों से भरी रहे,
मकर संक्रांति पर यही है यही है हमारी शुभकामना।।

1. DISTRICTS LIST >
2. MOBILES >
3. BIOGRAPHY >
4. SEO >
5. BLOGGING >
6. OFF PAGE SEO >

Makar Sankranti Wishes Hindi mein

तन में मस्ती, मन में उमंग देकर सबको अपनापन,
गुड़ में जैसे मिठापन होकर साथ,
हम उड़ाये पतंग भर दें आकाश में अपने रंग।।

Makar Sankranti Shayari 2022

बाजरे की रोटी, निम्बू का आचार,
सूरज की किरणें, चाँद की चांदनी,
और अपनों का प्यार, हर जीवन हो खुशहाल,
मुबारक हो मकर संक्रान्ति का त्योहार।।

1. ANSWER KEY >
2. ADMIT CARD >
3. CUT OFF >
4. EDUCATION >
5. EXAM DATES >
6. FULL FORM >

Makar Sankranti Wishes In Hindi

मुंगफली की ख़ुशबू,
और गुड़ की मिठास,
दिलों में खुशी और अपनो का प्यार,
मुबारक हो आपको मकर संक्रांति का त्योहार।।

Makar Sankranti Wishes 2022

सुंदर कर्म, शुभ पर्व,
हर पल सुख और हर दिन शान्ति,
आप सबके लिए लाये मकर संक्रांति।।

1. RECRUITMENT >
2. RESULTS >
3. PAHADE >
4. MUHAVARE >
5. KAHANI >
6. NIBANDH >

Happy Makar Sankranti Shayari 2022

काट ना सके कभी कोई पतंग आपकी,
टूटे ना कभी डोर विश्वास की,
छू लो आप ज़िन्दगी की सारी कामयाबी,
जैसे पतंग छूती है ऊँचाइयाँ आसमान की।।

Patang Shayari Wishes

उगता हुआ सूरज, दुआ दे आपको,
खिलता हुआ फूल, खुशबू दे आपको,
हम तो कुछ देने के काबिल नहीं हैं,
देने वाला हजार खुशियां दे आपको,

1. COUPON >
2. EPAPER >
3. GK >
4. NAME LIST >
5. PREVIOUS PAPERS >
6. FINANCE >

Uttrayan SMS in Hindi on Life

कागज अपनी किस्मत से उड़ता है,
लेकिन पतंग अपनी क़ाबिलियत से,
इसलिए क़िस्मत साथ दे ना दे,
क़ाबिलियत जरूर साथ देती है।।

Makar Sankranti In Hindi

पतंग की तरह आकाश में बुलंदी पाएँ,
मकर संक्रांति की आपको ढेरों शुभकामनाएँ।।

ShayariJokesStatus
WishesDialoguesQuotes
LyricsCaptionsAuthors
PoetryPoemPaheliyan
Districts ListMobilesBiography
SeoBloggingOff Page Seo
Answer KeyAdmit cardCut off
EducationExam DatesFull Form
RecruitmentResultsPahade
MuhavareKahaniNibandh
CouponEpaperGk
Name listPrevious papersFinance

Shayari on Uttrayan

मीठी बोली, मीठी जुबान,
मकर संक्रांति का यही है पैगाम।।

Shayari on Uttrayan and Makar Sankranti

एक ही समानता है पतंग और ज़िंदगी में,
ऊँचाई में हो तब तक ही वाह! वाह! होती है।।

Happy Makar Sankranti Images Download

ना कोई तरंग है, ना कोई उमँग है,
हमारी ज़िन्दगी भी क्या एक कटी पतंग है।।

Motivational Makar Sankranti Shayari

जैसे सूर्योदय के होते ही अंधकार दूर हो जाता है,
वैसे ही मन की प्रसन्नता से सारी बाधाएँ शांत हो जाती है,
सभी को मकर संक्राँति की हार्दिक शुभकामनाएँ।।

Makar Sankranti Wishes Images

तिल पकवानों की मिठास जिंदगी में भरिये,
पतंगों की तरह आकाश में बुलंदी पाइये,
और अपनी मेहनत की डोर से बुलंदी को संभाल के रखिये,
आपको मकर संक्रांति की शुभकामनायें।।

Sankranti Photos & Images Download

सोचा किसी अपने से बात करे,
अपने किसी खास को याद करे,
किया जो फैसला मकर संक्रांति की शुभकामनायें देने का,
दिल ने कहा क्यों ना अपने से शुरुवात करे।।

Happy Makar Sankranti Shayari In Hindi

मकर संक्रांति के दिन आपके जीवन का अंधेरा छट जाये,
एवं ज्ञान और प्रकाश से आपका जीवन उज्जवल हो जाए।।

Happy Makar Sankranti Image

ऐसा है की अपनी पतंग संभाल के उड़ाना,
हमारी छत से पतंग तो मिल जाती है दिल वापस नहीं मिलता।।

Makar Sankranti Par Shayari

पतंग सी है जिंदगी, कहाँ तक जाएगी,
रात हो या उम्र, एक ना एक दिन कट ही जाएगी।।

Happy makar sankranti festival with flying kites

इश्क की पतंगे उडाना छोड़ दी….. वरना
हर हसीनाओं की छत पर हमारे ही धागे होते।।

Makar Sankranti Poem in Hindi

प्रेम रतन धन पायो,
सर्दी को मौसम आयो,
दो दिन मे एक बार नहायो,
गरम पानी से नहायो,
स्वेटर पहन कर घर के बाहर जायो,
खूब गज़क मूफली खायो,
रजाई के बाहर मत आयो,
भूल मत जाना मे क्या समझायो,
वरना सर्दी लग जाएगी भायो,
काल ख़ूब तिला रा लड्डू खायो

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *